कृप् (कृ॑पूँ॒ सामर्थ्ये - भ्वादिः) + तृच्


 
प्रातिपदिकम्
प्रथमा एकवचनम्
कल्पितृ (पुं)
कल्पिता
कल्प्तृ (पुं)
कल्प्ता
कल्पित्री (स्त्री)
कल्पित्री
कल्प्त्री (स्त्री)
कल्प्त्री
कल्पितृ (नपुं)
कल्पितृ
कल्प्तृ (नपुं)
कल्प्तृ


अन्याः